Coding क्या है और Coding कैसे सीखे? | How to learn Coding in Hindi?

हेलो दोस्तों, Coding क्या है और Coding कैसे सीखे? आपके मन में कभी न कभी यह प्रश्न आया होगा।

अगर आपको कोडिंग में इंटरेस्ट है, आपने कभी कोडिंग के वीडियो देखे होंगे, आपने कभी सुना होगा, आपने सॉफ्टवेयर के बारे में सुना होगा, एप्लीकेशन को बनाने के बारे में सुना होगा। तो आपके मन में सवाल आता है कि एप्लीकेशन बनाते कैसे हैं? वेबसाइट कैसे बनती है? कोडिंग करते कैसे हैं? अगर आप स्टूडेंट हो और 6th क्लास से लेकर 10th क्लास का पढ़ रहे हो तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा बहुत हेल्पफुल होने वाला है। आज में बताने वाला हूं कि आप इस तरह से आपकी कोडिंग में शुरुआत कर सकते हो और कोडिंग सीख सकते हैं।

गवर्नमेंट की न्यू पॉलिसी में Coding सिखाया जायेगा?

अगर आपको पता होगा गवर्नमेंट की न्यू पॉलिसी में 6th क्लास के स्टूडेंट को कोडिंग सिखाया जा रहा है। इसमें कुछ टिप्स एंड ट्रिक्स शेयर करने वाला हूं कि आप किस तरह से आप कोडिंग में अपना इंटरेस्ट बढ़ा सकते हो और किस तरह से कोडिंग सीख सकते हो और आगे जाकर शरुआत में आप 6th क्लास में हो या 7th क्लास में हो स्टार्टिंग में कोडिंग सीखने की कोशिश करोगे तो शायद आपको यह थोड़ा सा मुश्किल लगेगा। कोडिंग के बारे में शरुआत में आपको यहां पर सामान्य चीजे सिखाई जाएगी। जैसे कि Tag क्या होता है? इसका का क्या यूज होता है और छोटी मोटी चीजें आपको बताई जाएगी तो कोडिंग क्या चीज है कैसी चीज है अगर आपको समझ में आती है तो आपको बहुत इंटरेस्टिंग लगेगा अगर आपको इंटरेस्टिंग नहीं लगेगी तो आपके सर से ऊपर से जाएगा और समझ में भी नहीं आएगा की यह चीज क्या है।

Coding क्या है?

सरल भाषा में समजे तो, कंप्यूटर जिस भाषा में समजता है। इसी भाषा में coding के जरिये कंप्यूटर को command देना। कोडिंग कंप्यूटर का वो पार्ट है जिसकी मदद से कंप्यूटर प्रोग्राम डिज़ाइन किया जाता है।

coding को प्रोग्रामिंग भी बोला जाता है। कोडिंग के बिना कंप्यूटर कोई भी ऑपरेशन चला नहीं सकते। क्योंकि कंप्यूटर को सिर्फ एक स्पेशल भाषा समझ में आती है जिसे coding या programming कहते है।

कंप्यूटर सिर्फ प्रोग्रामिंग भाषा को ही समझता है। हमे कंप्यूटर से कोई भी काम करवाना हो तो कंप्यूटर को कोडिंग के माध्यम से ही बताना होगा। इस लिए टेक्नोलॉजी की इस दुनिया में कंप्यूटर प्रोग्रामिंग का बहुत बड़ा योगदान है। प्रोग्रामिंग के बिना टेक्नोलॉजी का कोई मतलब ही नहीं। क्यों की आज के टेक्नोलॉजी युग में watch, smartphone, vehicle से लेके satellite तक में programming की मदद से बनाये गए software काम करते है।

प्रोग्रामिंग में भी अलग languages होती है और अलग-अलग प्लेटफार्म के लिए आवश्यकता अनुसार अलग programming language होती है। जैसे की web development के लिए HTML, CSS, PHP, Java Script, PYTHON, JAVA और Apps development में Android, swift, dart जैसी programming language यूज़ होती है। वैसे बहुत सारी programming language मार्किट में दिखी जाती है।

कौनसी टेक्नोलॉजी के लिए कौनसी लैंग्वेज यूज़ करे?

Technologies Programming Languages
Web Designing HTML , CSS , Java Script , Jquery
Web Development PHP , JAVA,  ASP.NET
Desktop C++ ,  JAVA ,  PYTHON,  ASP.NET
Mobile Apps  Android,  JAVA , C# , Kotlin, SWIFT

Coding / Programming कैसे सीखे ?

कोडिंग सिखने के लिए ऑनलाइन बहुत सारे बेसिक से लेकर एडवांस प्रोग्रामिंग तक का आर्टिकल और वीडियो मौजूद है। वो भी बिलकुल फ्री में।

कोडिंग/प्रोग्रामिंग सिखे Step by Step –

  • सबसे पहले तो decide करो। कोनसी टेक्नोलॉजी पर काम करना है ?
  • इसके बाद जाने इस टेक्नोलॉजी में कोनसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज यूज़ होती है।
  • सिलेक्ट की गयी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की बेसिक प्रोग्राम से शुरुआत करें।
  • coding प्रोग्राम को समझो और प्रेक्टिस करे।
  • बेसिक के सिखने के बाद ही एडवांस सीखे।

Online कोडिंग कैसे सीखे ?

इंटरनेट पर बहुत सारी वेबसाइट/मोबाइल एप्लीकेशन मिल जाएगी जो आपको फ्री में कोडिंग/प्रोग्रामिंग सिखने के लिए बेसिक से लेकर एंडवास तक की tutorial मिल जाएगी। जैसे की –

कोडिंग सिखने के फायदे

21 वीं सदी को टेक्नोलॉजी का युग भी जाना जाता है। इस टेक्नोलॉजी युग में कही पे भी जाओ तो प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेर की जरुरत बहुत सारी है। इस लिए इस फिल्ड में opportunity की कोई सिमा नहीं है। तो प्रोग्रामिंग सीखना आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेगा।

Coding sikhne ke fayde –

  • पुरे वर्ल्ड में सबसे ज्यादा जॉब इस फिल्ड में है। और फ्यूचर में भी इसकी डिमांड भरपुर रहने वाली है।
  • प्रोग्रामिंग में सबसे ज्यादा सेलेरी ग्रोथ होता है।
  • आप अपने धर बेठ कर दुनिया के किसी भी क्लाइंट का काम कर सकते हो। इस लिए आपको work opportunity पूरी दुनिया में से मिलेगी।
  • प्रोग्रामिंग करके आपके खुद का प्रोडक्ट सॉफ्टवेर जैसे की मोबाइल एप्लीकेशन/वेबसाइट बना सकते हो।

Coding सीखना क्यों जरुरी है?

यहां पर मैं एक बताना चाहता हूं कि अगर आप आगे जाकर कोई एप्लीकेशन या वेबसाइट बनाना चाहते हो या सॉफ्टवेयर बनाना है। ऐसी चीजों में आपको इंटरेस्ट है। कंप्यूटर की फील्ड में जाना है। IT फील्ड में जाना है। और आगे जाकर आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना है तो डेफिनेटली आपको जो स्कूल में पढ़ाया जाएगा 6th क्लास से तो डेफिनेटली coding पर फोकस करना चाहिए। और जो भी चीजें आपको सिखाई जाएगी 6th, 7th, 8th, 9th, 10th उन सभी क्लासों में आपको coding में अच्छे से फोकस करना है। और समझना है और छोटी छोटी चीजों को समझना कोडिंग देखो समझ में आया तो बहुत आसान है। और समझ में नहीं आया तो बहुत ही मुश्किल है।

6th क्लास से Coding कैसे सीखे?

अगर आप स्टूडेंट हो और 6th क्लास में हो तो आपको यहाँ पर पूरे का पूरा चांस है एक तक है। जो आप अभी ले सकते हो। इसे आपको अभी बिल्कुल ही गवाना नहीं है। एक तरह से सोच लो आप अपना एक फेवरेट सब्जेक्ट बना लेना है। आगे जाकर आईटी फील्ड में अपना करियर बनाना है कंप्यूटर लैपटॉप और यह सारी चीजों में आपको इंटरेस्ट है तो तब कोडिंग में पूरा फोकस करना चाहिए।

शरुआत में दोस्तों आपको थोड़ी छोटी-छोटी चीजें दिखाई जाएगी जो आगे आपको बहुत ही हेल्प करेगी। अगर आप अपने स्टार्टिंग की बेसिक चीजें सीख ली तो कोडिंग कैसे की जाती है। कोडिंग कैसे काम करती है। इसका क्या यूज है। आपको आगे जा कर आपका कॉन्फिडेंस बिल्ड हो जाएगा। और आपका इंटरेस्ट लग जाएगा कोडिंग में और आप धीरे-धीरे इसमें आप सीख रहे होंगे। और जरूरी नहीं है की स्कूल में यह सिखाया गया है। वही सीखना है। अगर आपको इंटरेस्ट है तो इंटरनेट पूरा पड़ा हुआ है। इंटरनेट पर आप सर्च करो इससे आगे क्या होता है। इसमें कौन सी चीजें सीखनी जरूरी है। अब खुद की सीखने की इच्छा होती है। तो आप के दरवाजे अपने आप खुल जाते हैं। इंटरेस्टिंग सीखने के लिए तो आप इंटरनेट पर आओ और programming की books खरीदें जो सबसे बेसिक होता है। जैसे की HTML,CSS हो गया और फिर हो गया C++ वहां पर आपको और भी अच्छी तरह से बताया जाएगी कि उसको एडवांस में कैसे सीखते हैं। वह चीज आप सीख सकते हो।

Coding सिखने की Tips

अगर दोस्त आपको सिर्फ कोडिंग सीखना है। तो में एक ही टिप्स दूंगा की कोडिंग को कभी रट्टा नहीं मारना। मुझे लगता है कि 6th और 7th क्लास में बच्चे सिखने के टाइम रट्टा ही मारते हैं। उसमें कोई शक नहीं। पर उस को समझो वह चीज क्या है और हो सके तो उसको प्रैक्टिकल करके देखो। क्योंकि coding is all about practice. अगर आप coding पढ़ रहे हो और प्रैक्टिकल नहीं कर रहे हो तो उसका कोई यूज़ नहीं है। और आपको समझ में भी नहीं आएगा।

क्या बच्चो और बूढ़े coding सिख सकते हैं?

हाँ, सिख सकते है। Coding सिखने की कोई उम्र नहीं होती। 6th क्लास के बच्चो से लेकर बुड्ढे लोग Coding सिख सकते है। अगर आपको कोडिंग सीखनी है और आपको “A” भी नहीं आता। कोई बात नहीं। आपको only गूगल पर जाना है और सर्च करना है Coding कैसे सीखे? यहा पे आपको बहुत सारे आर्टिक्ल और वीडियो मिल जाएंगे।

दोस्तों मुझे उम्मीद है। आपको coding क्या है? वो समज में आगया होगा। और कोई भी सवाल हो तो कमेंट करके जरूर बताये धन्यवाद !

Default image
Keyur Sojitra
Hey, welcome to the Hindiis. This is Keyur Sojitra. I'm the Author of Hindiis. i'm a Full Stack Software Developer. I blog about Tech Tips, SEO, Tutorial and Business related articles
Articles: 7

Leave a Reply